करता हू प्रयास उठने का
फिर गिर जाता हू
लेकिन नही मानता मे हार
फिर भी करता हू उठने का प्रयास
जो बुरा था सो बीत गया
या करता हू सब कुछ अच्छा करने का प्रयास
नही देता दोष किसी को गिरने का
करता हू अपने को सम्पुर्ण करने का प्रयास
लक्ष्य नही बदलना, बदलना है खुद को
अपनी कमीयो को ख़त्म करने का एक प्रयास
दुनिया चाहे लाख करे कोशिश करे गिराने की
हर बार गिर कर अनुभव का एक प्रयास
एक बीज भी मिट्टी मे दब कर सब कुछ सहकर
करता है बनने का एक वृक्ष महान
आपका प्रयास ही आपकी सफलता है
आओ मिलकर करे फिर से एक प्रयास

  • स्वतंत्र

Related Posts

One thought on “एक प्रयास

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *